उपधातु किसे कहते हैं What is Metalloid in hindi

उपधातु किसे कहते हैं

उपधातु किसे कहते हैं What is Metalloid in hindi

हैलो नमस्कार दोस्तों आपका बहुत-बहुत स्वागत है आज के हमारे इस लेख उपधातु किसे कहते हैं (What is Metalloid in hindi) में।

दोस्तों इस लेख के माध्यम से आप उपधातु किसे कहते हैं, उपधातु कौन-कौन सी होती हैं, उपधातुओं के उपयोग क्या-क्या है, आदि के बारे में जानेंगे तो आइए दोस्तों करते हैं, आज का यह लेख शुरू और जानते है उपधातु किसे कहते हैं:-

पारा धातु है या अधातु जानकारी

उपधातु किसे कहते हैं What is Metalloid

वे तत्व जो धातु (Metal) और अधातु (Non-Metal) दोनों के ही गुण प्रदर्शित करते हैं, उन तत्वों को उपधातु कहा जाता है। मेंडलीफ की आवर्त सारणी में इनको धातुओं और धातुओं के मध्य में रखा गया है।

उपधातु अम्ल और क्षार दोनों की तरह व्यवहार करने वाले पदार्थ का निर्माण करते है, जिन्हे एम्फोटेरिक पदार्थ कहते है, जबकि सभी धातुयें अर्धचलाकता (Semiconductor) का गुण प्रदर्शित करती है। 

उपधातु की संख्या कितनी है what is the number of metalloids

उपधातु की संख्या 7 है, जो निम्न प्रकार से है

बोरोन (Boron) 
सिलिकन (Silicon) 
जर्मेनियम (Germanium)
आर्सेनिक (Arsenic)
एंटीमनी (Antimony) 
टेलेरियम (Telerium) 
पोलोनियम (Polonium)

उपधातु के उदाहरण Example of Metalloid 

बोरोन Boron

बोरोन क्या है - एक रासायनिक उपधातु तत्व है, जो देखने में काला, चमकदार दिखाई देता है, जिसका निर्माण ब्रह्मांड में कॉस्मिक किरणों (Cosmic rays) के द्वारा किसी वस्तु पर गिरने के कारण होता है।

बोरान मेंडलीफ की आवर्त सारणी में ग्रुप 13 के पी ब्लॉक का तत्व है, जिसका परमाणु क्रमांक 5, परमाणु द्रव्यमान 10.80, गलनांक 2200 डिग्री सेल्सियस तथा क्वथनांक 2550 डिग्री सेल्सियस होता है।

बोरान पृथ्वी पर रासायनिक यौगिकों के साथ पाया जाता है। बोरोन के योगिक B2O3 का उपयोग बोरिक एसिड नामक दवा बनाने में किया जाता है, इसके साथ ही इसका उपयोग कांच उद्योग में,

प्रयोगशाला में बोरेक्स बीड टेस्ट आदि में किया जाता है। बोरोन का उपयोग अकार्बनिक ग्रेफाइट अकार्बनिक बैंजीन, तथा बोरिक एसिड (H3BO3) के निर्माण होता है, जबकि यह एंटीसेप्टिक दवा तथा अन्य कई प्रयोगशाला कार्यों में उपयोग किया जाता है।

सिलिकन Silicon

सिलिकन किसे कहते है - सिलिकॉन पृथ्वी पर सबसे अधिक पाया जाने वाला उपधातु (Metalloid) तत्व होता है, जिसका परमाणु क्रमांक 14, परमाणु भार 28, गलनांक 1414 डिग्री सेंटीग्रेड तथा क्वथनांक 3265 डिग्री सेंटीग्रेड होता है।

सिलिकॉन के विभिन्न योगिक होते हैं, जिनका उपयोग बहुतायत में किया जाता है। सिलिकॉन का उपयोग बिजली उद्योग में, हीरे उद्योग में, इलेक्ट्रॉनिक उद्योग में सबसे अधिक किया जाता है इसी कारण कंप्यूटर के केंद्र को सिलीकान वैली के नाम से जाना जाता है। 

एंटीमनी Antimony

ऐन्टिमोनी किसे कहते है- एंटीमनी रासायनिक उपधातु तत्व होता है जो प्रकृति में विभिन्न योगिको के रूप में पाया जाता है। यह पी ब्लॉक का एक तत्व है,

जिसका परमाणु क्रमांक 51, परमाणु भार 121.7, गलनांक 630 डिग्री सेंटीग्रेड क्वथनांक 1587 डिग्री सेंटीग्रेड होता है, यह चमकदार तथा ग्रे कलर की उपधातु होती है। 

एंटीमनी के यौगिक एंटीमनी सल्फाइड (Sb2S3) का उपयोग दियासलाई की तीली के सिरे पर लगने वाले ज्वलनशील पदार्थ के रूप में और आतिशबाजी में होता है। एंटीमनी सल्फाइड का उपयोग रबर के वल्कनीकरण में भी होता है। 

जर्मेनियम (Germanium) 

जर्मेनियम किसे कहते हैं - जर्मेनियम भी एक रासायनिक भंगूर उपधातु तत्व है, जिसका परमाणु क्रमांक 32 तथा परमाणु भार 72.6 होता है।

जर्मेनियम का क्वथनांक 2833 डिग्री सेंटीग्रेड तथा गलनांक 958 डिग्री सेंटीग्रेड होता है। जर्मेनियम एक अर्धचालक की भांति व्यवहार करता है,

इसलिए इसका उपयोग ट्रांजिस्टर के निर्माण में ऑप्टिक फाइबर में, फोटोइलेक्ट्रिक सेल में, सोलर सेल में, बहुलिकीकरण में उत्प्रेरक के रूप में तथा अन्य कई प्रयोगशाला कार्यों में किया जाता है।

पोलोनियम (Polonium) 

पोलोनियम किसे कहते हैं - पोलोनियम एक संक्रमण उपधातु तत्व होता है, जिसका परमाणु क्रमांक 84 तथा परमाणु भार 209 होता है। 

पोलोनियम एक ऐसा उपधातु है, जिसके सर्वाधिक संख्या में समस्थानिक पाए जाते हैं। 

आर्सेनिक (Arsenic)

आर्सेनिक किसे कहते है - आर्सेनिक एक रासायनिक उपधातु तत्व होता है, जो मुख्य रूप से धूसर और पीले रंग में प्राप्त होता है।

धूसर रंग का आर्सेनिक भंगूर तथा अपारदर्शी होता है, जबकि पीले रंग का पारदर्शी और आर्सेनिक होता है। आर्सेनिक का परमाणु क्रमांक 33 तथा परमाणु भार 74 होता है। 

आर्सेनिक विभिन्न प्रकार के यौगिकों का निर्माण करता है, इसलिए इसका उपयोग विभिन्न प्रकार से किया जाता है। आर्सेनिक का उपयोग कंप्यूटर चिप्स के उत्पादन करने में गैलीयम आर्सेनाइड नामक नवीनतम पदार्थ का प्रयोग किया जा रहा है,

जो अर्धचालक की तरह व्यवहार करता है। आर्सेनिक का उपयोग विभिन्न प्रकार की मिश्र धातुओं के निर्माण में, कीटनाशक दवाओं में तथा अन्य कई औषधियों के रूप में उपयोग होता है।

टेलुरियम (Tellurium)

टेलुरियम किसे कहते हैं - टेलुरियम भंगुर, विषैला टिन के जैसा चमकदार दिखाई देने वाला एक उपधातु तत्व होता है, जो आवर्त सारणी में पी ब्लॉक में पाया जाता है। इसका परमाणु क्रमांक 52, परमाणु भार 170 होता है।

टेलुरियम का उपयोग विभिन्न प्रकार की मिश्र धातुओं के निर्माण में यांत्रिकी को बढ़ावा देने के लिए तथा कई प्रयोगशाला क्रियाओं में किया जाता है।

दोस्तों आपने इस लेख में उपधातु किसे कहते हैं (What is Metalloid in hindi) तथा इनके उपयोग पढ़े, आशा करता हूँ, आपको यह लेख अच्छा लगा होगा।

इसे भी पढ़े:-

  1. मिश्रधातु किसे कहते है
  2. नाइट्रोजन स्थरीकरण क्या है जानकारी


Post a Comment

और नया पुराने
close