मिश्रधातु किसे कहते हैं उदाहरण what is an alloy example

मिश्रधातु किसे कहते हैं उदाहरण


मिश्रधातु किसे कहते हैं उदाहरण what is an alloy example 

हैलो नमस्कार दोस्तों आपका बहुत-बहुत स्वागत है। आज के हमारे इस लेख मिश्र धातु किसे कहते हैं इसके उदाहरण (What is an alloy example) में।

दोस्तों आज आप इस लेख के माध्यम से विभिन्न प्रकार की महत्वपूर्ण मिश्रधातु और उनके उपयोग के बारे में जान पाएंगे।

इस लेख में मिश्रधातु उनका संगठन उपयोग आदि के साथ ही अमलगम के बारे में भी बताया गया है, जो प्रतियोगी परीक्षाओं में अक्सर पूंछे जाने वाले तथ्य हैं, तो आइए दोस्तों करते हैं आज का यह लेख मिश्र धातु किसे कहते हैं उदाहरण:-

रसायन विज्ञान का महत्व

मिश्रधातु किसे कहते हैं what is an alloy

जब दो या दो से अधिक धातुयें आपस में मिलकर एक नई वस्तु का निर्माण करते हैं, जिसका गुणधर्म उनके अवयवों से अलग होते है, उस धातु को मिश्र धातु कहते हैं। साधारण शब्दों में कहा जा सकता है,

दो या दो से अधिक धातुओं के समांगी मिश्रण (homogeneous mixture) को ही मिश्र धातु कहा जाता है। जिसमें कुछ ना कुछ निश्चित ही उपयोगी गुण पाए जाते हैं,

जो मिश्र धातु बनाने वाले घटकों से अलग-अलग होते हैं। मिश्र धातुओं के प्रतिशत को कम या अधिक करके इनके गुणों को परिवर्तित भी किया जा सकता है।

धातुओं के मिश्रण से बनने वाली धातुयें अधिक कठोर होती हैं, संक्षारणरोधी भी होती है। किंतु मिश्र धातुओं के गलनांक (Melting point) उनके घटक तत्वों के गलनांक की तुलना में कम होते हैं। 

अमलगम किसे कहते है what is amalgam

पारा एक वह धातु है, जो सामान्य ताप पर द्रव अवस्था में पायी जाती है। जब पारा को किसी अन्य धातु के साथ मिलाया जाता है तो मिश्रधातु बनती है जिसे अमलगम कहते है।

पारा लोहे तथा कुछ अन्य धातुओं को छोड़कर सभी धातुओं के साथ मिश्रधातु बनाता है। साधारण शब्दों में कहा जा सकता है, कि अमलगम (Amalgam) एक मिश्र धातु है, जो पारा तथा अन्य धातुओं के समांगी मिश्रण से बनती है।  

अमलगम के उपयोग Uses of amalgam

पारा विभिन्न धातुओं के साथ मिश्रित होकर अमलगम बनाती है। इसलिए इनके उपयोग भी भिन्न-भिन्न होते हैं। अमलगम का उपयोग दंत चिकित्सा में दातों में भरने वाला पदार्थ निर्माण करने के लिए,

सोडियम अमलगम का उपयोग अपचायक के रूप में कार्बनिक तथा अकार्बनिक रासायनो में,थैलियम अमलगम का उपयोग तापमापी बनाने में, तथा अन्य विभिन्न प्रकार के अमलगम रासायनिक और भौतिक अभिक्रियाओं महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है।  

मिश्रधातु के उदाहरण Examples of alloy

मिश्रधातुयें कई प्रकार की होती है किन्तु यहाँ पर मुख्य मिश्रधातु के उदाहरण दिए गए है:- 

कांसा (Bronze) - कांसा कॉपर और टिन की मिश्र धातु है जिनमें कॉपर और टिन का संगठन क्रमशः 88% और 12% होता है। कांसे का उपयोग तार बनाने में मशीनों के पुर्जे निर्माण करने में, मूर्तीयाँ बनाने में तथा बर्तन बनाने के लिए किया जाता है।

पीतल (Brass) - पीतल कॉपर और जिंक की मिश्र धातु है। जिसमें कॉपर और जिंक का संगठन क्रमशः 70% और 30% होता है। पीतल का उपयोग भी मशीनों के पुर्जे बनाने के लिए बर्तन निर्माण तथा तार निर्माण में किया जाता है।

कृत्रिम सोना (Artificial gold) - कृत्रिम सोना जिसे रोल्ड गोल्ड के नाम से जाना जाता है एक मिश्र धातु है। जिसमें कॉपर 90% तथा एल्यूमीनियम 10% होता है। इसका उपयोग आभूषण तथा मूर्तियों के निर्माण में होता है।

मुद्रा धातु (Currency metal) - मुद्रा धातु कॉपर, टिन और फास्फोरस की मिश्र धातु है। जिसमें कॉपर 95%, टिन 4% तथा फास्फोरस 1% होता है। इस मिश्र धातु का उपयोग मुख्यतः मुद्राएँ, सिक्के (Coin) बनाने के कार्य में आता है।

गनमेटल (Gunmetal) - गनमेटल भी एक मिश्र धातु है जो कॉपर टिन और जिंक के मिश्रण से बनती है। जिसमें कॉपर 88% टिन 10% और जिंक 2% होता है। गन मेटल का उपयोग बंदूक और मशीनों के पुर्जे निर्माण करने में किया जाता है।

मोनल मेटल (Monal metal) - मोनल मेटल कॉपर आयरन और निकिल की मिश्र धातु होती है। जिसमें कॉपर 28% आयरन 2% तथा निकिल 70% होता है। इस मिश्र धातु का उपयोग मूर्तियां निर्माण करने में क्षार प्रतिरोधी कंटेनर बनाने में किया जाता है।

बेल मेटल (Bell metal) - बेल मेटल कॉपर और टिन की मिश्र धातु होती है। जिसमें कॉपर 80% और टिन 20% होता है। बेल मेटल धातु का उपयोग मंदिरों घंटे निर्माण करने के लिए किया जाता है।

डेल्टा मेटल (Delta metal) - डेल्टा मेटल एक वह मिश्र धातु है जिसका निर्माण कॉपर जिंक और आयरन धातु से होता है। इस मित्र धातु में कॉपर 60% जिंक 38%  तथा आयरन 2 % होता है। डेल्टा मेटल का उपयोग पानी के जहाज में बेयरिंग निर्माण में किया जाता है।

जर्मन सिल्वर (German silver) - जर्मन सिल्वर कॉपर जिंक निकिल की मिश्र धातु होती है जिसमें कॉपर 50%-60% जिंक 19%-20% तथा 20%-30% हो सकता है। मिश्र धातु का उपयोग बर्तन बनाने में मूर्ति का निर्माण करने में किया जाता है।

मुंज मेटल (Munj Metal) - मुंज मेटल कॉपर और जिंक की मिश्र धातु है जिसमें कॉपर 60% और जिंक 40% होता है। मिश्र धातु का उपयोग सिक्का बनाने में तथा नावों के पुर्जे बनाने में किया जाता है।

सोल्डर (Solder)- सोल्डर मिश्र धातु लेड और टिन की मिश्र धातु है। जिसमें लेड 68% प्रतिशत और टिन 32 % होता है। इसका उपयोग विद्युत कार्यों में किया जाता है।

स्टेनलेस स्टील (Stainless Steel) - स्टेनलेस स्टील आयरन क्रोमियम निकिल और कार्बन की मिश्र धातु है। जिसमें आयरन 73% क्रोमियम 18% निकेल 8% पर कार्बन 1% होता है। stainless-steel का उपयोग मोटरसाइकिल के पुर्जे निर्माण में बर्तन निर्माण में तथा चिकित्सा ब्लेट निर्माण में होता है।

मैग्नेलियम (Magnelium) - यह एल्युमीनियम और मैग्नीशियम की मिश्र धातु है जिसमें एलुमिनियम 95% और मैग्नीशियम 5% होता है। मिश्र धातु का उपयोग वायुयान और जहाज के पुर्जे निर्माण में किया जाता है।

नाइक्रोम (Nichrome) - नाइक्रोम निकल आयरन क्रोमियम कार्बन मैग्नीज जिंक सिलिकॉन ऑक्साइड की मिश्र धातु होती है। जिसमें निकिल 58%-62% आयरन 22%-25% क्रोमियम 8%-13% कार्बन 0.2%-1% तथा मैंगनीज जिंक और सिलिकॉन ऑक्साइड 1%-2% तक होता है। नाइक्रोम का प्रयोग विद्युत हीटर के तार बनाने के कार्य में किया जाता है।

ड्यूरेलुमिन (Duralumin) - यह मिश्र धातु एलमुनियम मैग्नीशियम ऑफ कॉपर से मिलकर बनती है। जिसमें एलमुनियम 95% मैग्निशियम 1% और कॉपर 4% होता है। धातु का उपयोग वायुयान और प्रेशर कुकर के निर्माण में किया जाता है।

कांसटैंटन (Constantan) - यह कॉपर और निकिल की मिश्र धातु है जिसमें कॉपर 60% और निकिल 40 % होता है। इस मिश्र धातु का उपयोग तार बनाने में किया जाता है।

डच मेटल (Dutch Metal) - डच मेटल कॉपर और जिंक की मिश्र धातु है जिसमें कॉपर 80% और जिंक 20% होता है। डच मेटल का उपयोग मशीनों के पुर्जे बनाने में सस्ते आभूषण निर्माण करने में किया जाता है।

एलनिको (Alnico) - इस मिश्र धातु में स्टील 50% एलमुनियम 20% निकेल 20% और कोबाल्ट 10% होता है। इस मिश्र धातु का उपयोग चुम्बकों के निर्माण में किया जाता है।

फोस्फर ब्रांच (Phosphor branch) - इस मिश्र धातु का निर्माण को कॉपर टिन और फास्फोरस धातु से होता है। जिसमें कॉपर 85% टिन 12% और फास्फोरस 2% होता है। किस मिश्र धातु का उपयोग रेडियो के एरियल बनाने में किया जाता है।

दोस्तों आपने इस लेख में मिश्र धातु किसे कहते हैं? (what is alloy) मिश्र धातुओं के उदाहरण के साथ ही अमलगम के बारे में पढ़ा आशा करता हू आपको यह लेख अच्छा लगा होगा।

इसे भी पढ़े:-

  1. रसायन विज्ञान किसे कहते हैं
  2. नाइट्रोजन स्थरीकरण किसे कहते हैं




Post a Comment

और नया पुराने
close