एसएससी का पूरा नाम Full form of SSC

एसएससी का पूरा नाम बताइये

एसएससी का पूरा नाम बताइये Full form of SSC 

हैलो दोस्तों नमस्कार आपका बहुत-बहुत स्वागत है। आज के इस लेख एसएससी (SSC) का पूरा नाम हिंदी में। दोस्तों आज आप इस लेख के माध्यम से एसएससी का पूरा नाम जान पाएंगे।

इसके साथ ही आप जान पाएंगे कि एसएससी क्या है? तथा एसएससी के कार्य क्या है? तो आइए दोस्तों शुरू करते हैं, आज का यह लेख एसएससी क्या है, एसएससी का पूरा नाम:- 

एसएससी क्या है what is SSC 

एसएससी का फुल फॉर्म स्टाफ सिलेक्शन कमीशन ( Staff Selection Commission) तथा हिंदी में कर्मचारी चयन आयोग होता है।

यह एक बोर्ड है, जो भारत सरकार के अधीन केंद्रीय विभागों में ग्रुप बी और ग्रुप सी के पदों पर योग्य उम्मीदवारों की नियुक्ति करता है।

एसएससी की स्थापना सन 1977 में हुई थी। इसका मुख्यालय नई दिल्ली में है। कर्मचारी चयन आयोग में एक अध्यक्ष के साथ 2 सदस्य होते हैं।

यह बोर्ड लोक शिकायत पेंशन तथा कार्मिक मंत्रालय से संबंधित एक संस्था है। इन सभी विभागों में स्टॉफ की नियुक्ति के लिए

इस आयोग के द्वारा समय-समय पर विभिन्न प्रकार की परीक्षाएँ आयोजित की जाती हैं। जिसके द्वारा उक्त संबंधित संस्थाओं में योग्य उम्मीदवारों की नियुक्ति की जाती है।

एसएससी की सभी प्रकार की जॉब के लिए एसएससी की लिंक पर क्लिक करें ssc.nic.in

एसएससी फुल फॉर्म in hindi SSC full form in hindi 

एसएससी एक केंद्रीय बोर्ड है, जिसका कार्य केंद्र के अंतर्गत आने वाले विभिन्न केंद्रीय विभागों, अधीनस्थ कार्यालयों में योग्य उम्मीदवारों की नियुक्ति करना होता है।

इसके लिए एसएससी विभिन्न प्रकार की परीक्षाओं के साथ योग्य उम्मीदवारों का चयन करने के लिए साक्षात्कार जैसी प्रक्रिया अपनाती है।

एसएससी का फुल फॉर्म स्टाफ सिलेक्शन कमीशन तथा हिंदी में कर्मचारी चयन आयोग है। जो भारत सरकार के केंद्रीय विभागों में समूह ख और ग के पदों पर योग उम्मीदवारों की नियुक्ति विभिन्न प्रकार की परीक्षाओं के आधार पर करता है।

एसएससी जीडी का फुल फॉर्म Full form of SSC GD 

एसएससी जीडी का पूरा नाम स्टॉफ सिलेक्शन कमीशन जनरल ड्यूटी General Duty होता है। स्टॉफ सिलेक्शन कमीशन के द्वारा भारत सरकार के अंतर्गत देश के विभिन्न

पैरामिलिट्री फाॅर्स में देश के योग्य जवानो की नियुक्ति होती है। जिसमें BSF, CISF, ITBP, CRPF असम राइफल आदि को शामिल किया गया है। एसएससी GD के लिए उम्मीदवार को कम से कम

किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10 वीं की परीक्षा पास होना चाहिए। उम्मीदवार को लिखित परीक्षा के बाद फिजिकल एफिसिनैंसी टेस्ट PET तथा मेडिकल टेस्ट से गुजरना पढता है। 

एसएससी के लिए योग्यता Qualification of SSC 

एसएससी स्टाफ सिलेक्शन कमीशन के द्वारा केंद्रीय सरकार के विभिन्न पदों पर नियुक्तियाँ की जाती है। जिसमें समूह ख और ग के पदों के लिए योग्य

उम्मीदवारों की कई स्तरों पर परीक्षाओं को आयोजित कर उनका चयन होता है। इनके लिए योग्यताएँ भी अलग-अलग होती हैं।

एसएससी के अंतर्गत किसी भी विभाग में नियुक्त होने के लिए न्यूनतम योग्यता कक्षा दसवीं पास तथा अधिकतम योग्यता ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट तक भी होती है, कुछ पदों के लिए कम्प्यूटर प्रशिक्षण तथा अन्य योग्यतायें भी आवश्यक होती है। 

एसएससी ऍमटीएस क्या है What is SSC MTS 

एसएससी एमटीएस का पूरा नाम स्टाफ सिलेक्शन कमीशन के अंतर्गत मल्टी टास्किंग स्टाफ होता है। अर्थात एसएससी एमटीएस परीक्षा के द्वारा उम्मीदवारों को उन स्थानों पर चयनित किया जाता है।

जहाँ पर उन्हें विभिन्न प्रकार का कार्य करना होता है। किंतु यह कार्य नॉनटेक्निकल अर्थात गैर तकनीकी होता है।

एमटीएस पद पर आवेदन करने के लिए उम्मीदवार के पास कम से कम किसी भी बोर्ड के द्वारा दसवीं उत्तीर्ण होना आवश्यक है।

एसएससी एमटीएस की परीक्षा दो चरणों में पूर्ण होती है। प्रारंभिक चरण में लिखित परीक्षा जो कंप्यूटर बेस्ड होती है।

जिसमें जनरल नॉलेज, करंट अफेयर्स, मैथमेटिक्स, रीजनिंग तथा सामान्य अंग्रेजी से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं, जो छात्र इस परीक्षा को पास करते हैं।

उन्हें द्वितीय चरण के लिए बुलाया जाता है। जहाँ पर उन्हें ऐसे राइटिंग और लेटर राइटिंग की परीक्षा से गुजरना पड़ता है।

इस परीक्षा में जो उम्मीदवार सिलेक्ट होते हैं। वह डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के लिए आगे बढ़ते हैं तथा मेरिट के अनुसार विभिन्न केंद्रीय विभागों के अंतर्गत मल्टी टास्किंग स्टाफ ग्रुप सी के रूप में चयनित हो जाते हैं।

एसएससी सीएचएसएल क्या है What is SSC CHSL 

एसएससी सीएचएसएल भी स्टाफ सिलेक्शन कमीशन के द्वारा आयोजित एक विशेष प्रकार की परीक्षा है। जिसे एसएससी 10+2 परीक्षा के नाम से भी जाना जाता है।

एसएससी सीएचएसएल का फुल फॉर्म स्टॉफ सिलेक्शन कमीशन कंबाइन हायर सेकेंडरी लेवल होता है, अर्थात इस परीक्षा के लिए न्यूनतम योग्यता कक्षा 12वीं पास किसी भी बोर्ड से होना आवश्यक होता है।

इस परीक्षा के द्वारा चयनित उम्मीदवार विभिन्न विभागों में जो केंद्रीय सरकार के अधीन होते हैं, वहाँ पर लोअर डिविजन क्लर्क पोस्टल असिस्टेंट, डाटा एंट्री ओपरेटर तथा अन्य स्टाफ के रूप में चयनित हो जाते हैं।

यह परीक्षा भी तीन चरणों में पूर्ण होती है। प्रारंभिक चरण में उम्मीदवार को लिखित परीक्षा से गुजरना पड़ता है।

जिसमें करंट अफेयर्स, जनरल नॉलेज, रीजनिंग, मैथमेटिक्स के साथ अंग्रेजी के सामान्य बहुविकल्पीय प्रश्नों को हल करना होता है।

जो भी उम्मीदवार इस परीक्षा को पास करता है, वह द्वीतीय चरण की परीक्षा के लिए चयनित हो जाता है, जिसमें डिस्क्रिप्टव पेपर होता है, जो उम्मीदवार यह परीक्षा पास करता है,

तो वह एसएससी सीएचएसएल की तृतीय चरण वाली परीक्षा से गुजरता है। जहाँ पर उम्मीदवार को कंप्यूटर टाइपिंग टेस्ट और स्पीड टेस्ट परीक्षा से गुजरना पड़ता है।

जो भी उम्मीदवार इस परीक्षा को पास करता है। वह अगले चरण के लिए चयनित हो जाता है तथा अगले चरण में डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन होता है।

डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के बाद लास्ट मेरिट लिस्ट निकलती है। जो उम्मीदवार इस मेरिट लिस्ट में चयनित होता है, वह केंद्र सरकार के अधीन दिए गए विभाग में लोअर डिविजन क्लर्क तथा अन्य स्टाफ के रूप में चयनित हो जाता है।

एसएससी सीजीएल क्या है What is SSC CGL 

एसएससी सीजीएल एसएससी स्टाफ सिलेक्शन कमीशन के द्वारा आयोजित की जाने वाली परीक्षा होती है।

सीजीएल का फुल फॉर्म कंबाइन ग्रेजुएट लेवल टेस्ट होता है, अर्थात एस परीक्षा में स्नातक पास उम्मीदवार भाग लेते है।

इस परीक्षा के द्वारा चयनित उम्मीदवार केंद्र सरकार के अधीन विभिन्न उच्च पदों पर अर्थात समूह ख के पदों पर चयनित हो जाते हैं।

यह परीक्षा 4 चरणों में पूर्ण होती है। प्रारंभिक चरण में लिखित परीक्षा जिसे प्रारंभिक परीक्षा के नाम से भी जाना जाता है, होती है।

इस परीक्षा में करंट अफेयर्स, जनरल नॉलेज,रिजनिंग मैथमेटिक्स के साथ सामान्य अंग्रेजी के बहुविकल्पीय प्रश्नों को हल करना होता है।

जो भी उम्मीदवार इस प्रारंभिक परीक्षा को क्लियर करता है। तो वह द्वितीय परीक्षा जिसे मेंस परीक्षा के नाम से जाना जाता है, के लिए चयनित हो जाता है।

एसएससी सीजीएल में विभाग और पदों के अनुसार मेंस की परीक्षा भिन्न-भिन्न विषयों के अंतर्गत भी होती है। सामान्यतः पदों के लिए एसएससी सीजीएल की मेंस परीक्षा में 2 पेपर होते हैं।

एक पेपर अंग्रेजी का होता है, और दूसरा पेपर गणित का होता है। जो भी उम्मीदवार इस मेंस परीक्षा को क्लियर करता है।

तो वह तृतीय चरण के लिए चयनित हो जाता है। जिस चरण में उम्मीदवार को ऐसे राइटिंग और लेटर राइटिंग की परीक्षा से गुजरना पड़ता है।

जब उम्मीदवार इस परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन करता है, तो एसएससी सीजीएल के चौथे चरण डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के लिए चयनित हो जाता है।

इसके बाद डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के बाद अंतिम मेरिट लिस्ट बनती है, और जो भी व्यक्ति इस मेरिट लिस्ट में चयनित होता है। वह केंद्र सरकार के अधीन विभिन्न विभागों में अपनी सेवाएँ देना शुरू कर देता है।

दोस्तों एस लेख में आपने एसएससी का पूरा नाम पढ़ा आशा करता हूं या लेख आपको अच्छा लगा होगा कृपया इसे शेयर जरूर करें।

इसे भी पढ़े:-

  1. एस्केरिस के सामान्य लक्षण
  2. पाइला क्या है पाइला के लक्षण
  3. मादा एनाफिलीज मच्छर का जीवन चक्र




एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ