रसायन विज्ञान किसे कहते है | परिभाषा What is chemistry in hindi

रसायन विज्ञान किसे कहते है शाखाएँ

रसायन विज्ञान किसे कहते है शाखाएँ what is chemistry in hindi

हैलो दोस्तों आपका बहुत -बहुत स्वागत है, हमारे इस लेख रसायन विज्ञान किसे कहते है में (What is chemistry)।

इस लेख में आप रसायन विज्ञान किसे कहते है? के साथ रसायन विज्ञान का महत्त्व क्या है? तथा रसायन विज्ञान के कितने प्रकार है? के बारे में जान पाएँगे। तो दोस्तों बने रहिये इस लेख में रसायन विज्ञान किसे कहते है:-

मिश्रधातु किसे कहते है

रसायन विज्ञान किसे कहते हैं what is chemistry

रसायन विज्ञान किसे कहते है what is chemistry-  रसायन विज्ञान विज्ञान की वह शाखा है, जिसके अंतर्गत पदार्थों के गुण, संगठन, संरचना तथा उनमें होने वाले परिवर्तनों तथा उनकी क्रियाविधि आदि का अध्ययन किया जाता है।

उस शाखा को रसायन विज्ञान कहते हैं। रसायन विज्ञान को अंग्रेजी में केमिस्ट्री (Chemistry) कहा जाता है जिसकी उत्पत्ति मिस्र के प्राचीन नाम कीमिया से हुई है। जिसका अर्थ होता है "काला रंग"

प्राचीन काल में रसायन विज्ञान के अंतर्गत अध्ययन किए जाने वाले पदार्थों को केमिकेटिंग कहा जाता था क्योंकि रसायन विज्ञान में मुख्यतः किसी भी पदार्थ के संगठन और उनके सूक्ष्म कणों की संरचना आदि का अध्ययन किया जाता है।

इसके अतिरिक्त रसायन विज्ञान में द्रव्य के गुण, द्रव्य में परस्पर होने वाली क्रियाएँ और उनके नियम, ऊष्मा तथा उनकी ऊर्जाओं का द्रव्य पर प्रभाव यौगिकों का संश्लेषण,

विश्लेषण, जटिल व मिश्रित पदार्थों से सरल व शुद्ध पदार्थ अलग करना आदि कई प्रकार का अध्ययन रसायन विज्ञान के अंतर्गत किया जाता है।

रसायन विज्ञान को एक अलग शाखा के रूप में स्थापित करने का श्रेय है लेवोशिये (levoshiye) को है लेवोशिये को आधुनिक रसायन विज्ञान का जन्मदाता या जनक भी कहा जाता है।

रसायन विज्ञान किसे कहते है शाखाएँ

रसायन विज्ञान की परिभाषा Defination 

विज्ञान की वह महत्वपूर्ण शाखा जिसमें किसी भी पदार्थ, (Matter) द्रव्य आदि, के गुणों, संघटन, उनका उपयोग, उनके लाभ पदार्थो के बीच परस्पर क्रियायें उनसे बनने वाले नए पदार्थ उनकी संरचना आदि।

कई महत्वपूर्ण बिंदुओं का अध्ययन किया जाता है रसायन विज्ञान कहलाती है।

मानव जीवन में जितनी भी वस्तुएँ मेडिसिन (Medicine) आदि देखने को मिलती है, सब रसायन विज्ञान की देन है।

रसायन विज्ञान का इतिहास history of chemistry 

रसायन विज्ञान का इतिहास प्राचीन काल से संबंधित है जिस समय समाज का विकास प्रारंभ हो गया था उसी समय से रसायन विज्ञान का इतिहास भी जागृत होने लगा था। 

मनुष्य तथा जीव जंतुओं द्वारा उपभोग की जाने वाली समस्त प्रकार की सामग्री किस प्रकार से बनी हैं तथा उनके गुण और लाभ क्या क्या है आदि का अध्ययन प्राचीन काल से किया जाने लगा था।

प्राचीन काल में ही पत्थरों को रगड़ कर अग्नि उत्पन्न की जाने लगी तो वहीं मनुष्यों ने जीव जंतु को देखकर जड़ी बूटियों को बारे में जाना। 

महर्षि भारद्वाज ने कई जड़ी बूटियों और उनके महत्व का वर्णन आयुर्वेद ग्रंथो में किया है। आज धातुओं के गुणों का महत्व आयुर्वेद में बताया गया है जो प्राचीन काल से ही ज्ञात है।

सुश्रुत के द्वारा दी गई सुश्रुत चिकित्सा और चरक सहिंता ने रसायन विज्ञान के इतिहास को और आगे बढ़ा दिया इसके बाद रसायन विज्ञान में अम्ल, क्षार तथा लवणों का उपयोग भी कई प्रकार की सामग्रियों को निर्मित करने में किया जाने लगा।

इसके पश्चात 15वीं और 16वीं शताब्दी में यूरोप के कुछ देशों तथा अन्य देशों में रसायन शास्त्र का तीव्र विकास आरंभ हो गया वैज्ञानिकों (Scientist) ने लकड़ी का जलना, कोयले का जलना, जंग का लगना आदि पर अध्ययन किया।

हेनरी कैवेंडिश ने हाइड्रोजन (hydrogen) का पता लगाया तो ब्लैक जोसफ वैज्ञानिक ने कार्बोनेटों का अध्ययन किया इसी प्रकार से रसायन शास्त्र का विकास होता गया।

अन्य वैज्ञानिकों में प्रीस्टले ने ऑक्सीजन (Oxigen)  का अध्ययन किया तो वहीं दूसरी तरफ थॉमसन ने परमाणु सिद्धांत की नींव रखी परमाणु सिद्धांत के आते ही रसायन विज्ञान में एक अद्भुत क्रांति आ गई।

जिससे कई धातुओं तथा अधातुओं (Metal and Non-Metal) की खोज होती चली गई और मेंडलीफ ने अपनी आवर्त सारणी (Mendeleev's periodic table) प्रस्तुत की कार्बन के विशेष गुणों के अध्ययन के पश्चात एथेन, मेथेन एल्काइन के साथ चक्रीय यौगिकों बेंजीन आदि का 

अविष्कार किया गया, तो वहीं बुलर ने यूरिया (Urea) नामक कार्बनिक पदार्थ का निर्माण किया इस प्रकार आज  रसायन शास्त्र एक मुख्य शाखा के साथ अपने विस्तृत क्षेत्र के अध्ययन की सुविधा के लिए कई उपशाखाओं में बंट गया।

रसायन विज्ञान की शाखाएँ branches of chemistry in hindi 

रसायन विज्ञान में कई प्रकार के पदार्थों तथा द्रव्यों का अध्ययन किया जाता है। इसलिए रसायन विज्ञान एक बहुत बड़ी शाखा के रूप में विकसित हो गई।

अतः रसायन विज्ञान का एक ही शाखा में अध्ययन करना कठिन हो गया था। इसकारण वैज्ञानिकों ने रसायन विज्ञान के अध्ययन को

सरल और सुबिधापूर्ण बनाने के लिए रसायन विज्ञान को कई उपशाखाओं में विभाजित कर दिया है। इनमें से प्रमुख रसायन विज्ञान की शाखाओं को बताया गया है।

इसे भी पढ़े -

जीव विज्ञान किसे कहते है

1.भौतिक रसायन physical chemistry    

यह रसायन विज्ञान की वह एक शाखा है, जिसके अंतर्गत रासायनिक अभिक्रिया के नियमों तथा सिद्धांतों का अध्ययन किया जाता है।

द्रव्यों की ऊष्मा तरंगों आदि का जीवों पर होने वाले प्रभाव का भी अध्ययन भौतिक विज्ञान के अंतर्गत किया जाता है।

2.अकार्बनिक रसायन inorganic chemistry 

अकार्बनिक रसायन Inorganic chemistry-विज्ञान की वह शाखा है जिसके अंतर्गत कार्बन के अतिरिक्त उन पदार्थों का अध्ययन किया जाता है जिनमें कार्बन अनुपस्थित होता है।

अकार्बनिक रसायन में कार्बन को छोड़ हाइड्रोजन, नाइट्रोजन, ऑक्सीजन आदि सभी तत्वों से बने रासायनिक पदार्थों तथा द्रव्यों के गुणों तथा संगठन आदि का अध्ययन किया जाता है।

3.कार्बनिक रसायन organic chemistry 

कार्बनिक रसायन Organic chemistryके अंतर्गत कार्बन तथा कार्बन से निर्मित यौगिकों, पदार्थो का अध्ययन किया जाता है। क्योंकि कार्बन एक ऐसा तत्व होता है,

जो अधिकतर तत्वों के साथ सहयोग करके यौगिक तथा अणुओं का निर्माण करता है। इस प्रकार से कार्बन के बहुत सारे यौगिक और अणु हो गए

जिनके अध्ययन के लिए एक अलग शाखा विकसित कर दी गई। जिसमें कार्बन से बने सभी यौगिकों और पदार्थो के गुणों तथा संगठन का अध्ययन किया जाता है।

4.ओधोगिक रसायन industrial chemistry     

औद्योगिक रसायन Industrial chemistryउद्योगिक रसायन रसायन विज्ञान की एक महत्वपूर्ण शाखा है जिसमें पदार्थों का निर्माण बहुत बड़े पैमाने पर किया जाता है।

इसमें बड़े पैमाने पर औद्योगिक इकाइयों में उत्पादित किए जाने वाले पदार्थों तथा द्रव्यों मैं जितनी भी अभिक्रियें, सिद्धांतों तथा 

नियमों का उपयोग किया जाता है, उन सभी का अध्ययन रसायन विज्ञान की औद्योगिक रसायन शाखा के अंतर्गत किया जाता है।

5.औषधि रसायन Medical chemistry

औषधि रसायन, Medical Chemistry- औषधि रसायन रसायन विज्ञान की वह शाखा है जिसके अंतर्गत मनुष्य तथा अन्य जीवों के रोगों में उपयोग की जाने वाली औषधियों का निर्माण होता है।

औषधि विज्ञान के अंर्तगत निर्माणित पदार्थों के गुण उपयोग, उनके संगठन तथा बनाने की विधियों आदि का अध्ययन किया जाता है। यह रसायन विज्ञान की एक विशेष शाखा है।

6.विश्लेषक रसायन Analitical chemistry  

विश्लेषक रसायन Analitical Chemistryरसायन विज्ञान की वह शाखा है जिसमें विभिन्न प्रकार के अज्ञात व्यक्तियों तथा पदार्थों की पहचान उनका संगठन

उनके गुणों का पता और अनुमापन किया जाता है जिससे उन पदार्थ में द्रव्यों का उपयोग में किस प्रकार लाना है, इस बात की पुष्टि हो जाती है।

7.कृषि रसायन Agriculture chemistry    

कृषि रसायन Agriculture chemistryकृषि रसायन रसायन विज्ञान की वह शाखा है, जिसके अंतर्गत विभिन्न प्रकार के जैवनाशक पदार्थों का निर्माण किया जाता है। 

इसके साथ ही मृदा का संगठन (Soil organization) आदि का अध्ययन करके कृषि उपज बढ़ाने के तरीकों की खोज जाती है।

8.जैव रसायन bio chemistry

जैव केमिस्ट्री Bio - Chemistry- जैव रसायन रसायन विज्ञान के अंतर्गत एक शाखा है, जिसके छोटे-छोटे जीवो में उपस्थित रासायनिक गुणों का अध्ययन

तथा जंतुओं और वनस्पति में उसे प्राप्त होने वाले रासायनिक द्रव्यों का अध्ययन उनका संगठन तथा गुणों का ज्ञान प्राप्त किया जाता है।

दोस्तों इस लेख में आपने रसायन विज्ञान किसे कहते है, (what is chemistry) रसायन विज्ञान की प्रमुख शाखाओं के बारे में पढ़ा। आशा करता हूँ, आपको यह लेख अच्छा लगा होगा। 

इसे भी पढ़े :-

  1. कुष्ठ रोग की दवा और जानकारी
  2. पोलियो के कारण लक्षण इतिहास
  3. प्लाज्मोडियम क्या है, इतिहास

Post a Comment

और नया पुराने
close